पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय एडमिशन हेतु पहली मेरिट लिस्ट कब होगी जारी...प्रवेश के नए नियम पर आपत्ति. When will the first merit list for Pt. Ravi Shankar Shukla University admission be released...objection to the new rule of admission

हेलो दोस्तों आज की आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं पंडित रविशंकर शुक्ला विश्वविद्यालय रायपुर की मेरिट लिस्ट कब जारी होंगे और आप मेरिट लिस्ट में अपना नाम देखकर एडमिशन प्रोसेस आगे बढ़ा सकते हैं साथ ही प्रवेश के नए नियम जो कि अभी चल रहा है ऑनलाइन उनका बारे में जानकारी देंगे


 10वीं-12वीं से लेकर इंजीनियरिंग छात्रों को सर्टिफिकेट कोर्स कराएगा सीएसवीटीयू, ताकि मिल सके नौकरी


छात्रों के तकनीकी कौशल और ज्ञान को बढ़ाने के लिए तकनीकी विधि खास तरह के सर्टिफिकेट कोर्स शुरू कर रहा है। ये कोर्स ऑनलाइन मोड में ही होंगे। स्वामी विवेकानंद तकनीको विवि 1 जुलाई से 22 तरह के पाठ्यक्रम प्रारंभ करेगा। इसमें एंडा  डेवलपमेंट, ऑटो सीएडी, बेसिक ऑफ इंटरनेट थिंग्स, इलेक्ट्रकल, इलेक्ट्रॉनिक्स सर्किट डिजाइन, रोबोटिक्स,



वापस नहीं होगी फीस


कोर्स के लिए स्वामी विवेकानंद तकनीको विधि ने आवेदन प्रारंभ कर दिए है। 17 से 30 जून तक इसके लिए आवेदन मंगाए गए है। पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन ही होगी। छात्र गूगल फॉर्म लिंक के माध्यम से आवेदन कर सकेंगे। छात्रों को पाठ्यक्रम शुल्क का भुगतान भी साथ ही करना होगा। मुगतान र एनईएफटी और अन्य ऑनलाइन मोड के माध्यम से किया जा सकेगा। पाठ्यक्रमों को फोस 1300 से लेकर 2000 रुपए तक है। सीएसवीटीयू ने यह स्पष्ट किया है कि एक बार क्लास शुरू होने के बाद कोर्स की फीस वापस नहीं की जाएगी। वहीं 75 प्रतिशत से कम उपस्थिति वाले छात्र प्रशिक्षण प्रमाणपत्र प्राप्त करने के पात्र नहीं होंगे।



30 दिन तक प्रतिदिन 2 घंटे पढ़ाई


तकनीकी विवि द्वारा ओफर किए गए सभी कोर्स को अवधि 30 दिन है। महमर सभी कोर्स को दो घंटे नियमित पढ़ाई होगी। इसके लिए पृथक कोर्स को ऑर्डिनेटर भी नियुक्त किए गए है। कोर्स संबंधित जानकारी के लिए नंबर भी विवि ने अपनी वेबसाइट में अपलोड कर दिए है। किसी भी विषय में डियो अथवा डिप्लोमा कर चुके छात्र इसके लिए पात्र होगे। इनके अलावा आईटीआई. हायर सेकंडरी व हाईस्कूल के छात्रों से भी आवेदन मंगाए गए है। अन्य पाठ्यक्रमों में अध्ययन के साथ ही छात्र इसमें भी दाखिला ले सकेंगे।


एमएस ऑफिस, टेली, डिजिटल इमेज प्रोसेसिंग सहित कई ऐसे कोर्स को शामिल किया गया है, जिनकी मांग औद्योगिक क्षेत्रों में नौकरी के दौरान होती है।


कोर्स को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि पढ़ी हुई चीजों का दैनिक तथा कार्यालयीन जीवन में अधिक से अधिक प्रयोग हो सके। तथ्यों के व्यावहारिक प्रयोग पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाएगा। छात्रों को सीएसवीटीयू सर्टिफिकेट भी प्रदान करेगा, जिसका इस्तेमाल वे नौकरी के दौरान कर सकेंगे। छात्र अपनी रुचि अनुसार किसी भी पाठ्यक्रम का चयन कर सकते हैं।




सीबीएसई रिजल्ट के 7 दिन बाद ही पहली मेरिट लिस्ट .....रविवि ने ली प्राचार्यों की बैठक, प्रवेश के नए नियम पर आपत्ति, इधर छात्र-छात्राएं भी भड़के



पं. रविशंकर शुक्ल विवि ने सोमवार को संबद्ध महाविद्यालयों के प्राचार्यों की बैठक ली। ऑनलाइन मोड में हुई इस बैठक में 113 महाविद्यालयों के प्राचार्यों ने हिस्सा हरिभूमि लिया। 25 जून से फॉलोअप होने वाली रविवि की सेमेस्टर परीक्षाओं के विषय में दिशा-निर्देश दिए 


विरोध की तैयारी 


महंत कॉलेज के प्राचार्य डॉ. देवाशीष मुखर्जी ने बताया, सभी महाविद्यालय उच्च स्तर पर नियम को लेकर चर्चा करने की तैयारी में है।


शैक्षणिक कैलेंडर में कॉलेज न पिछड़े, इसके लिए समाधान ढूंढ़ने पर जोर देंगे। वहीं छात्र संगठन भी नए नियम के पक्ष में नहीं है। एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष शांतनु झा ने कहा, नए नियमों से पढ़ाई करने वाले छात्रों को दिक्कत होगी। उच्च शिक्षा विभाग का यह नियम छात्रों के हित में नहीं है। शिक्षामंत्री के समझ अपनी बात रखेंगे।



रविवि को सेमेस्टर परीक्षाएं 25 जून से 14 जुलाई तक चलेगी। इस बार छात्रों के परीक्षा केंद्र में उत्तर लिखने पर रोक लगा दी गई है। परीक्षार्थियों को घर से ही उत्तर लिखकर लाने कहा गया है। वार्षिक परीक्षाओं के दौरान बनी सामूहिक नकल जैसी स्थिति सेमेस्टर परीक्षाओं में न बने, इसे लेकर विशेष एहतियात बरतने कहा गया है। गौरतलब है कि अप्रैल में हुई वार्षिक परीक्षाओं के दौरान छात्रों को केंद्र में आकर उत्तर लिखने की छूट दी गई थी। इसके बाद कॉलेजों में सामूहिक नकल की स्थिति निर्मित हो गई थी। आलोचना के बाद विवि ने नियम बदले थे। इस बार शुरुआत से ही महाविद्यालयों को व्यवस्था बनाने कहा गया है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
© 2022-2025 All Rights Reserved By www.freejobalertcg.in