12 वी के बाद यू पी एस सी कैसे करें

 आईएएस ऑफिसर का देश और समाज में काफी सम्मानित स्थान होता है। आईएएस ऑफिसर बनने के लिए यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सर्विसे एग्जाम में बैठना और उसे उत्तीर्ण करना होता है। अगर आप 12वीं के बाद ही तैयारी करना चाहते हैं तो जानिए आपकी स्ट्रैटिजी क्या होनी चाहिए...

ग्रैजुएशन करें

सिविल सर्विस एग्जाम के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपके पास कम से कम बैचलर की डिग्री होनी चाहिए। इस एग्जाम के लिए मिनिमम परसेंटेज की कोई शर्त नहीं है। यानी अगर आप ग्रैजुएशन कर चुके हैं तो आप परीक्षा में बैठ सकते हैं। वैसे इसके लिए आप उस समय भी आवेदन कर सकते हैं जब फाइनल इयर में हों।


सिविल सर्विसेज एग्जाम को क्लियर करें


सिविल सर्विसेज एग्जाम का आयोजन तीन चरणों में होता है। पहले नंबर पर आपको प्री क्लियर करना होता है। प्री क्लियर करने के बाद ही मेंस में बैठ सकते हैं। मेंस के बाद इंटरव्यू देना होता है।


प्रीलिमिनरी एग्जाम


प्रीलिमिनरी एग्जाम में 2 कंपल्सरी पेपर होते हैं। जनरल अबिलिटी टेस्ट (गैट) और सिविल सर्विस ऐप्टिट्यूड टेस्ट (सीसैट)। सवाल वास्तुनिष्ठ प्रकार के होंगे। सवाल इंग्लिश और हिंदी, दोनों भाषा में होंगे। यह पेपर क्वालिफाइंग नेचर का होता है। ये कुल 400 अंकों के पेपर होते हैं।

मेंस एग्जाम


आईएएस मेंस को दो टाइप में बांटा जाता है-क्वालिफाइंग एग्जाम और मेरिट एग्जाम।


क्वालिफाइंग पेपर


1. पेपर ए: संविधान की छठी अनुसूचि में शामिल किसी भाषा में से एक भाषा

2. पेपर बी: इंग्लिश

ये दोनों पेपर 300-300 मार्क्स के होते हैं।


मेरिट के 7 पेपर होते हैं जिनमें से सभी 250-250 मार्क्स के होंगे। यानी पेपर कुल 1750 अंकों को होगा। सभी पेपर 3-3 घंटे का होगा।

इंटरव्यू

मेंस एग्जाम क्लियर करने वाले कैंडिडेट्स को इंटरव्यू/पर्सनैलिटी टेस्ट के लिए बुलाया जाता है।



Post a Comment

Previous Post Next Post
© 2022-2025 All Rights Reserved By www.freejobalertcg.in